Skip to Content

आज़मगढ़ बीएसए कार्यालय द्वारा फर्जी अध्यापकों का किया जा रहा है भुगतान, शिकायत कर्ता आमिर को मिली जान से मारने की धमकी

आज़मगढ़ बीएसए कार्यालय द्वारा फर्जी अध्यापकों का किया जा रहा है भुगतान, शिकायत कर्ता आमिर को मिली जान से मारने की धमकी

Be First!

आज़मगढ़ बीएसए कार्यालय द्वारा फर्जी टिचरों का किया जा रहा है भुगतान, शिकायत कर्ता आमिर को मिली जान से मारने की धमक

आज़मगढ़। ज़िला बेसिक शिक्षा अधिकारी कार्यालय में व्याप्त भ्र्ष्टाचार का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि जिले के कई फर्जी और पदमुक्त शिक्षकों का भुगतान धड़ल्ले किया जा रहा है लेकिन कोई बोलने को तैयार नही है।


गौरतलब है कि काफी समय पहले पूर्व भाजपा के जिला अध्यक्ष ने  बीएसए कार्यालय में चल रही फर्जी नियुक्ति के मामले की जांच के लिए तत्कालीन ज़िलाधीश को पत्र लिखा था। ज़िला अधिकारी ने जब मामले की जांच करवाया तो 6 फर्जी शिक्षक पाए गए थे। जिनकी नियुक्ति फर्जी कागजों के आधार पर की गई थी। ज़िला अधिकारी ने आरोपियों की सेवा तत्काल समाप्त कर उनके खिलाफ एफआईआर और रिकवरी के आदेश दिए थे। बावजूद इसके बीएसए कार्यालय उन फर्जी शिक्षकों का भुगतान कर रहा है।
आज़मगढ़ के मुबारकपुर निवासी आमिर फहीम ने इस घोटाले के जांच के लिए सीएम के जनसुनवाई पोर्टल का सहारा लिया है और मुख्यमंत्री को पूरे प्रकरण से अवगत कराते हुए जांच की मांग किया।
जनसुनवाई द्वारा जांच ज़िला बेसिक शिक्षा अधिकारी कार्यालय पर पहुंचने के बाद बीएसए कार्यालय से शादाब नामक व्यक्ति ने  दिनांक 8 अगस्त 2018 को आमिर को नेतागिरी बन्द करने, नही तो घर आकर देख लेने की धमकी दिया है।
आमिर ने उपरोक्त मामले की शिकायत ज़िले के एसएसपी से किया है लेकिन अभी तक पुलिस की तरफ कोई कार्रवाई नहीं हुई है जिसके कारण आमिर का परिवार भयभीत है।

आमिर और उनका परिवार किसी भी अनहोनी की आशंका से चिंतित है। उन्हें इस बात की आशंका है कि बीएसए कार्यालय के लोग कहीं रास्ते में या कभी भी आमिर या परिवार के किसी सदस्य की हत्या का प्रयास कर सकते हैं।

आमिर द्वारा बीएसए कार्यालय की जांच की मांग से बाबुओं और अधिकारियों में बौखलाहट है, क्योंकि अगर जांच निष्पक्षता से हुई दो चार लोंगों का जेल जाना निश्चित है। इस लिये यह लोग आमिर की आवाज़ को दबाने के लिए किसी भी हद तक जा सकते हैं।

Previous
Next

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*