Skip to Content

एस एन इंटर कॉलेज के प्रबंधक ने शिक्षक सूर्यमणी यादव को कार्यालय में पिटवाया। भृष्ट व्यवस्था के ख़िलाफ़ लड़ रहे हैं सूर्यमणी

एस एन इंटर कॉलेज के प्रबंधक ने शिक्षक सूर्यमणी यादव को कार्यालय में पिटवाया। भृष्ट व्यवस्था के ख़िलाफ़ लड़ रहे हैं सूर्यमणी

Be First!

अम्बेडकर नगर/आलापुर। शिक्षा के बाजारीकरण ने शिक्षा को  व्यवसाय तो बना ही दिया है साथ ही शिक्षा के कारोबारियों को गुण्डा भी बना दिया है। लोंगों से नौकरी के देने के नाम पर लाखों रुपये लेकर स्कूल खोलने की परंपरा बन गयी है। ऐसी ही घटना है इंदईपुर की जहां स्कूल प्रबंधक के गुंडों ने एक शिक्षक को पीट दिया।

गौरतलब है कि एस एन इंटर कॉलेज इंदई पुर अंबेडकर नगर  के कार्यवाहक प्रधानाचार्य के वित्तीय अधिकार छिन जाने के बाद डरा धमका कर वसूली करने के लिए रखे गए दो वित्तविहीन अध्यापक जफर आलम एवं जावेद द्वारा सूर्यमणि यादव प्रवक्ता संस्कृत को आज प्रधानाचार्य कार्यालय में बुलाकर उनकी पिटाई की गई। सूर्यमणि यादव का कसूर केवल इतना था कि उन्होंने विद्यालय नियमावली फर्जीवाड़ा करके बनाए गए माइनारिटी विद्यालय के संबंध में अपना शपथ पत्र दिया था। जिसके आधार पर विद्यालय का माइनारिटी स्टेटस स्थगित कर दिया गया।

माइनॉरिटी विद्यालय की घोषणा दर्शाते हुए प्रबंधक ने अध्यापकों की भर्ती के नाम पर क्षेत्रवासियों से करोड़ों रुपए वसूले थे। अब वे लोग अपने पैसे प्रबंधक से वापस मांग रहे हैं। जिस से परेशान होकर प्रबंधक अपने द्वारा नियुक्त किए गए वित्तविहीन अध्यापक जिसमें से जफर आलम जो 16 जुलाई 2018 की जांच रिपोर्ट में एमडीएम का पैसा प्रधानाचार्य से वसूल कर प्रबंधक तक पहुंचाने के आरोपी सिद्ध हुए हैं, एवं दूसरे वित्तविहीन अध्यापक जावेद जो संस्था के प्रबंध समिति के सदस्य तनवीर आलम के सगे भाई हैं, ने विद्यालय में भय का माहौल बना रखा है।

सूर्यमणि यादव ने कॉलेज में चल रहे घोटाले का पर्दाफाश किया था जिसके कारण गुंडों द्वारा उनकी पिटाई की गई है। अभी यादव द्वारा पुलिस में किसी तरह की कोई शिकायत का पता नही चला है। पुलिस का कहना है कि अगर पीड़ित शिकायत देना तो आरोपियों के कार्रवाई अवश्य की जाएगी। रिपोर्ट: एस के चौधरी

Previous
Next

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*