Skip to Content

शिमला सामूहिक बलात्कार और हत्या मामले में सीबीआई ने आईजी और डीएसपी समेत 8 लोगों को किया गिरफ्तार

शिमला सामूहिक बलात्कार और हत्या मामले में सीबीआई ने आईजी और डीएसपी समेत 8 लोगों को किया गिरफ्तार

Be First!

दिल्ली। शिमला के चर्चित कोटखाई रेप और मर्डर केस में केंद्रीय जाँच ब्यूरो ने आईजी और डीएसपी समेत 8 लोगों को अरेस्ट किया है। इन गिरफ्तारियों का संबंध एक आरोपी की पुलिस की गिरफ्तारी में हुई मौत से है। गौरतलब है कि हिमाचल प्रदेश उच्च न्यायालय ने कोटखाई सामूहिक बलात्कार एवं हत्या मामले और एक आरोपी की हिरासत में मौत केस की जांच 19 जुलाई को केंद्रीय जाँच ब्यूरो को सौंपी थी।

केंद्रीय जाँच ब्यूरो द्वारा गिरफ्तार लोगों में आईजी जहूर हैदर जैदी के अलावा डीएसपी मनोज कुमार जोशी और 6 अन्य लोग शामिल हैं। 22 जुलाई को इस मामले में केंद्रीय जाँच ब्यूरो ने दो एफआईआर दर्ज की थी। गौरतलब है कि 4 जुलाई को शिमला से 56 किमी दूर कोटखाई में आरोपियों ने 16 वर्षीय स्कूली छात्रा को लिफ्ट दी और नजदीकी जंगल में ले जाकर उसके साथ रेप किया और फिर उसकी हत्या कर दी। नाबालिग की लाश दो दिन बाद बरामद हुई थी। उसके शरीर पर चोट के कई निशान पाए गए थे।

पुलिस ने इस मामले में मुख्य आरोपी राजिंदर सिंह समेत आशीष चौहान, सुभाष बिष्ट, दीपक कुमार, सूरज सिंह और लोकजन को गिरफ्तार किया था। इस मामले में एक आरोपी की पुलिस कस्टडी में मौत हो गई थी। केंद्रीय जाँच ब्यूरो सूत्रों ने बताया, ‘आईजी जैदी, डीएसपी मनोज जोशी और अन्य पुलिसकर्मियों को संदेह के आधार पर गिरफ्तार किया गया है। जांच के बाद ही यह पता चल पाएगा कि ये पुलिस कस्टडी में हुई मौत मामले में शामिल हैं या नहीं।

इस रेप और मर्डर के बाद शिमला में पुलिस प्रशासन के खिलाफ जमकर विरोध हुआ था और पुलिस पर इस कांड में शामिल बड़े घरों के बच्चों को बचाने का आरोप लगा था। बाद में हिमाचल प्रदेश हाई कोर्ट ने गैंगरेप और कस्टडी में मौत मामले की जांच सीबीआई को करने को कहा था।

Previous
Next

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*