Skip to Content

पूर्वी दिल्ली नगर निगम में चले जूते चप्पल, सदन की गरिमा हुई तार-तार

पूर्वी दिल्ली नगर निगम में चले जूते चप्पल, सदन की गरिमा हुई तार-तार

Be First!
by November 30, 2018 दिल्ली

दिल्ली। नेताओं की करतूत ने एक बार फिर सदन की गरिमा को तार तार किया। सदन के अंदर भाजपा के पार्षदों ने आप के पार्षद के साथ मार पीट और गाली गलौज किया। मीडिया के सामने सदन की गरिमा शर्मसार होती रही और मेयर व पार्षदों को इस बात का अहसास भी नही हुआ। पूर्वी दिल्ली नगर निगम के सदन की बैठक में बृहस्पतिवार को सदन के अंदर पार्षदों दूसरे पक्ष के पार्षदों की भद्दी भद्दी गालियां देते देखे गए।

पिछले सोमवार को हुए हंगामा और दोनों पक्षों के पार्षदों के बीच हुई जोर आजमाइश की वजह से बड़ी संख्या में सुरक्षाकर्मियों को बतौर मार्शल तैनात किया गया था। फिर भी सदन में जमकर हंगामा हुआ। धक्का-मुक्की होने के साथ ही सैंडल और चप्पलें तक फेंकी गई।
हंगामे की शुरुआत नेता प्रतिपक्ष कुलदीप कुमार के भाषण के दौरान हुई। उन्होंने निगम की बदहाली के लिए केंद्र सरकार को जिम्मेदार ठहराया। उन्होंने कहा कि यह देश आरएसएस की मानसिकता से नहीं चल सकता। देश संविधान के अनुसार ही चलेगा। इस बात का भाजपा पार्षदों ने विरोध किया। भाजपा ने केजरीवाल तो आप ने मोदी और आरएसएस के खिलाफ नारे लगाने शुरू कर दिए। नारेबाजी में गाली का भी उपयोग किया गया। इसी दौरान पार्षद राजकुमार बल्लन और रोमेश गुप्ता नेता प्रतिपक्ष से भिड़ गए।

इस दौरान गाली-गलौज भी हुई। इससे माहौल बिगड़ गया और एक घंटे तक दोनों तरफ से नारेबाजी होती रही। इसी दौरान पार्षद सुषमा मिश्रा ने आप पार्षदों को सैंडिल दिखाई तो बबीता खन्ना ने अपनी सैंडिल आप पार्षद मनोज त्यागी की ओर उछाली, जो पार्षद साजिद को लगी। बबीता खन्ना का कहना है कि त्यागी अश्लील इशारे कर रहे थे, जो उन्हें बर्दाश्त नहीं हुआ। इसलिए उन्होंने सैंडिल मारी। इसके बाद सदन में धक्का-मुक्की होने लगी।

भाजपा की महिला पार्षद नीतू त्रिपाठी, गुंजन गुप्ता व अपर्णा गोयल सहित अन्य ने मनोज त्यागी को सदन से बाहर निकालने की मांग की। इसी दौरान धक्का-मुक्की में पार्षद साहिस्ता को चोट लग गई, जिससे वे सदन से बाहर निकल गई। उन्हें इस हालत में देख उनके पति आग बबूला हो गए और वे अपशब्दों का प्रयोग करते हुए सदन में घुसने की कोशिश करने लगे, लेकिन सुरक्षाकर्मियों ने उन्हें रोक दिया।

साहिस्ता ने बताया कि पार्षद संतोष पाल, भावना मलिक और अन्य ने उन्हें घेर लिया और उनके पेट में घूसे मारे। इसके बाद आप पार्षद वेल में बैठ गए। मार्शलों ने एक-एक कर सभी आप पार्षदों को उठाकर सदन के बाहर कर दिया। कुछ पार्षदों को चार-चार सुरक्षाकर्मी टांग कर ले गए। इस तरह का पहला मौका था जब पार्षदों को मार्शलों ने बाहर निकाला हो।

गुंडागर्दी पर उतारू भाजपा
नेता प्रतिपक्ष कुलदीप कुमार ने कहा किभाजपा के पार्षद गुंडागर्दी पर उतारू हो आए हैं। जब उनके नेता ने दिल्ली सरकार पर अंगुली उठाई तो हम चुप होकर सुनते रहे, लेकिन जब केंद्र सरकार की हकीकत बताई गई तो वे तिलमिला गए। भाजपा के पार्षदों ने उनकी सीट के सामने खड़े होकर गाली गलौज शुरू कर दी। By:KD Siddiqui, Email:editorgulistan@gmail.com

Previous
Next

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*