Skip to Content

GULISTAN

SACH K SATH SADA…..

आइएसएल में खुलकर खेलने वाली टीमें कर रहीं अच्छा प्रदर्शन

आइएसएल में खुलकर खेलने वाली टीमें कर रहीं अच्छा प्रदर्शन

Be First!
by December 18, 2017 खेल कूद

हीरो इंडियन सुपर लीग में अब टीमें अपने पांव जमाने लगी हैं। इसके साथ ही हमें आक्रामक फुटबॉल देखने को मिल रही है और जो टीम खुलकर खेल रही हैं, वह शीर्ष पर बनी हुई हैं। अगर आप तालिका की शीर्ष आधी टीमों को देखेंगे तो पाएंगे कि जो टीमें सकारात्मक सोच के साथ खेल रही हैं, वे तालिका में आगे हैं।

उम्मीद के मुताबिक बेंगलुरु एफसी का दबदबा कायम है। वह लंबे समय से साथ खेल रहे हैं और पिछले दो मैचों में जिस ढंग से उसने छह अंक हासिल किए, वह उसकी मजबूती को दिखाता है। एफसी गोवा ने भी मुझे काफी प्रभावित किया है। गोवा की टीम के लिए विदेशी खिलाड़ी काफी अच्छा कर रहे हैं और उनका आक्रमण सच में देखने लायक होता है। हालांकि गोलकीपर लक्ष्मीकांत कट्टीमनी अभी अपनी सर्वश्रेष्ठ फॉर्म में नहीं हैं और उनकी कुछ गलतियों के बावजूद टीम का प्रदर्शन प्रभावित नहीं हुआ है।

 

दूसरी तरफ दक्षिण में चेन्नईयन एफसी भी शानदार प्रदर्शन कर रही है। वह एक संगठित, अनुशासित और संतुलित टीम दिखाई दे रही है। उनका प्रदर्शन हर मैच के साथ सुधरता जा रहा है। नॉर्थ ईस्ट यूनाइटेड एफसी के खिलाफ केरला ब्लास्टर्स एफसी की भूख देखकर भी अच्छा लगा और निश्चित तौर पर इससे अंतर पैदा होगा। अंत में सीके विनीत के हेडर ने सारा अंतर पैदा कर दिया, लेकिन पूरे मैच के दौरान ब्लास्टर्स के जोश को देखा जा सकता था। उन्हें मौके मिले थे और फॉरवर्ड में उनके पास ऐसे खिलाड़ी थे, जो इसका फायदा उठा सकते थे। यह इससे पहले के मैचों में देखने को नहीं मिला। मुझे ब्लास्टर्स कागजों पर एक मजबूत टीम दिखती है और इसलिए मुझे ऐसा कोई कारण नहीं दिखता कि आखिर क्यों वह बेखौफ होकर नहीं खेल सकते, खासतौर से अपने घरेलू मैदान पर।

 

गत चैंपियन एटलेटिको डि कोलकाता इस समय अंक तालिका में सबसे नीचे है, लेकिन रोबी कीन वापस एक्शन में दिख रहे हैं। टीम को उनसे कुछ अच्छे गोल करने की उम्मीद होगी। फुटबॉल का मतलब ही गोल करना है और एटीके को इस समय कीन से यही उम्मीद है। दिल्ली डायनामोज एफसी ने भी अब तक निराश किया है और उन्हें अगर चुनौती पेश करनी है, तो उन्हें ज्यादा आक्रामक होना होगा। हालांकि अभी शुरुआती दिन ही हैं और अभी काफी फुटबॉल खेली जानी बाकी है।

Previous
Next

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*