Skip to Content

GULISTAN

SACH K SATH SADA…..

बिटकॉइन को नहीं किया जा सकता नजरअंदाज: सेबी चेयरमैन

बिटकॉइन को नहीं किया जा सकता नजरअंदाज: सेबी चेयरमैन

Be First!
by December 20, 2017 व्यापर

नई दिल्ली। बाजार नियामक भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (सेबी) के चेयरमैन अजय त्यागी ने बुधवार को कहा है कि वर्चुअल करंसी ने कोई नियमित ढ़ाचा नहीं अपनाया और सरकार का एक पैनल इसकी जांच कर रहा है।

मौजूदा समय में बिटकॉइन या अन्य कोई क्रिप्टो करंसी को भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) या अन्य नियामक की ओर से मंजूरी नहीं मिली हुई है।

बिटकॉइन के मामले में सरकार आरबीआई और सेबी के साथ विचार विमर्श कर रही है। साथ ही पैनल में वित्त और सूचना प्रद्यौगिकी के मंत्री भी इस संबंध में सोच विचार कर रहे हैं। अजय त्यागी ने सीआईआई की ओर से आयोजित फाइनेंशियल मार्केट समिट में यह सारी बातें कही हैं।

हालांकि, उन्होंने यह भी बताया कि ब्लॉकचेन तकनीक पर कोई नियामक नहीं होना चाहिए। यह एक महत्वपूर्ण तकनीक है जिसे प्रोत्साहित किया जाना चाहिए। ब्लॉकचेन तकनीक जिसका सभी इस्तेमाल करते हैं, के लिए नियामक नहीं होना चाहिए। यह ऐसी तकनीक है जिसे प्रोत्साहन की जरूरत है और हम इसे प्रोत्साहित कर रहे हैं। जानकारी के लिए बता दें कि ब्लॉकचेन तकनीक का इस्तेमाल बिटकॉइन में और अन्य क्रिप्टो करंसी में डील करने में काम आती है।

गौरतलब है कि नियामक और सरकारी एजेंसी इस दुविधा में है कि बिटकॉइन को टैक्स दायरे में लाने का मतलब यह होगा कि उसे लीगल स्टेटस दिया जा रहा है। जबकि इससे जुड़े जोखिम को देखते हुए इसपर कोई सहमति नहीं बन पाई है। इसमें मनी लॉन्ड्रिंग और टेरर फंडिंग जैसी गतिविधियां भी शामिल है।

Previous
Next

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*