Skip to Content

पहली बार में ही चयन, मजदूर का बेटा इसरो में बना वैज्ञानिक

पहली बार में ही चयन, मजदूर का बेटा इसरो में बना वैज्ञानिक

Be First!

मथुरा । वेल्डिंग मजदूर के बेटे ने दिखा दिया कि हौसले बुलंद हो तो बाधाओं को दरकिनार किया जा सकता है। उसने पहले ही प्रयास में इसरो (इंडियन स्पेस रिसर्च ऑर्गनाइजेशन) में वैज्ञानिक पद पर चयनित होकर ब्रज का नाम रोशन किया है।

गोपालपुरा, टाउनशिप निवासी पूरन सिंह वाहनों में वेल्डिंग का कार्य करते हैं। उनके बेटे कृष्ण गोपाल ने 2012 में यूपी बोर्ड से इंटर करने के बाद स्कॉलरशिप के सहारे गाजियाबाद से बीटेक मैकेनिकल किया। फरवरी 2017 में इसरो की वैकेंसी निकली।

कृष्ण गोपाल ने लिखित परीक्षा दी, जिसमें उसका पहली बार में ही चयन हो गया। उसके बाद दिल्ली में हुए साक्षात्कार में भी उसने चयनित 34 अभ्यर्थियों में अपना स्थान पक्का कर लिया। कृष्ण गोपाल के परिवार में माता पिता के अलावा उसकी दो बहनें खुशबू और सुनयना भी हैं।

Previous
Next

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*