Skip to Content

GULISTAN

SACH K SATH SADA…..

IND VS SL: भारत के पास श्रीलंका के खिलाफ टी20 सीरीज जीतने का मौका

IND VS SL: भारत के पास श्रीलंका के खिलाफ टी20 सीरीज जीतने का मौका

Be First!
by December 21, 2017 खेल कूद
इंदौर। टेस्ट और वनडे सीरीज पर कब्जा जमाने के बाद पहले मैच में रिकॉर्ड जीत दर्ज करने से उत्साहित टीम इंडिया की नजरें अब इंदौर में ही टी-20 सीरीज पर अपना कब्जा जमाने पर रहेगी। शुक्रवार को होने वाले दूसरे टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच में भारत के पास श्रीलंका का इस दौरे पर सफाया करने का भी मौका रहेगा। इंदौर पहली बार अंतरराष्ट्रीय टी-20 मैच की मेजबानी कर रहा है। वहीं मेहमान टीम के लिए यह करो या मरो का मुकाबला है। उसे सीरीज में बने रहने के लिए यहां हर हाल में जीतना होगा।

 

जीत का अद्भुत रिकॉर्ड : होलकर स्टेडियम में भारत का जीत का रिकॉर्ड 100 फीसद का है। उसने यहां अभी तक खेले सभी छह मैच जीते हैं, जिनमें 5 वनडे और एक टेस्ट शामिल है। यह इंदौर में होने वाला पहला अंतरराष्ट्रीय टी-20 मैच है और रोहित की कप्तानी में टीम इंडिया इस रिकॉर्ड को बरकरार रखना चाहेगी।

 

रोहित से बड़ी पारी की उम्मीद : कटक में जीत दर्ज करने वाली टीम में परिवर्तन की उम्मीद कम ही है। वहां भारत ने ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या सहित पांच गेंदबाजों को मौका दिया था। पांड्या के ओवरों के उम्दा प्रयोग के लिए रोहित ने उन्हें नई गेंद से गेंदबाजी कराई जिसका उन्हें फायदा भी मिला। पांड्या वनडे सीरीज में बाद के ओवरों में सफल नहीं हुए थे इसलिए उन्हें नई गेंद से आजमाया गया। इंदौर में भी यही देखने को मिल सकता है। पिछले मैच में रोहित बड़ी पारी नहीं खेल पाए थे। इस बार उनसे यह उम्मीद की जा सकती है।

 

चौथे नंबर पर धौनी : भारतीय टीम पिछले काफी समय से वनडे और टी-20 में चौथे नंबर के लिए दर्जनों खिलाडिय़ों को इस्तेमाल कर चुकी है। टीम प्रबंधन ने पिछले मैच में फिर धौनी को इस नंबर पर आजमाया था जिसमें सफलता भी मिली। दक्षिण अफ्रीका दौरे पर चौथा और पांचवां नंबर बहुत ही महत्वपूर्ण साबित होगा क्योंकि यहां पर तेज रन बनाने के साथ अनुभव की जरूरत भी होगी। ऐसे में धौनी को दूसरे टी-20 में भी इसी क्रम में उतारा जाना तय है। मनीष पांडेय के पास एक बार फिर खुद को साबित करने का मौका होगा। श्रीलंका के खिलाफ हार्दिक पांड्या की ताबड़तोड़ बल्लेबाजी का नजारा देखने को नहीं मिला है। होलकर के छोटे स्टेडियम में वह कमाल कर सकते हैं।

 

गेंदबाजी है जबरदस्त : भारतीय टीम की गेंदबाजी जबरदस्त रही है। भुवनेश्वर कुमार और मुहम्मद शमी की अनुपस्थिति में पांड्या और जयदेव उनादकट फिर से नई गेंद संभालेंगे। रणनीति के तहत जसप्रीत बुमराह को स्लॉग ओवरों की जिम्मेदारी दी जाएगी। बीच के ओवरों में चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव और कलाई के गेंदबाज युजवेंद्र चहल का कोई जोड़ नहीं है। इन दोनों ने श्रीलंकाई बल्लेबाजों को खुलकर खेलने का मौका ही नहीं दिया है।

 

बेबस श्रीलंकाई : श्रीलंकाई टीम अपने पिछले छह टी-20 मैच हार चुकी है। ओपनर उपुल थरंगा ने अपनी टीम से बेहतर प्रदर्शन की अपील की है। उसके बल्लेबाजों ने पिछले मैच में भारतीय गेंदबाजों के सामने आसानी से घुटने टेक दिए थे। थरंगा के अलावा शीर्ष क्रम के निरोशन डिकवेला, कुशल परेरा ही दहाई का आंकड़ा पार कर सके थे। उसके गेंदबाजों ने पिछले मैच के अंतिम चार ओवरों में 60 रन लुटाए थे और इसी ने मैच का पासा पलट दिया था।

 

पिच और मौसम

होलकर स्टेडियम की पिच पर सामान्य तौर पर बड़े स्कोर बनते रहे हैं और बल्लेबाजों के अनुकूल रहती है। रात को ओस भी बड़ी भूमिका निभा सकती है। सूरज की रोशनी नहीं पडऩे पर पिच में नमी बनी रह सकती है। ऐसे में शुरुआती ओवरों में बल्लेबाजों को कुछ संभलकर खेलना होगा।

 

टीमें : भारत -रोहित शर्मा (कप्तान), केएल राहुल, श्रेयस अय्यर, मनीष पांडेय, दिनेश कार्तिक, महेंद्र सिंह धौनी, हार्दिक पांड्या, वॉशिंगटन सुंदर, युजवेंद्र चहल, कुलदीप यादव, दीपक हुड्डा, जसप्रीत बुमराह, मुहम्मद सिराज, बासिल थंपी, जयदेव उनादकट।

 

श्रीलंका-तिषारा परेरा (कप्तान), उपुल थरंगा, एंजेलो मैथ्यूज, कुशल परेरा, धनुष्का गुणतिलके, निरोशन डिकवेला, असेला गुणरत्ने, सदीरा समरविक्रमा, दासुन शनाका, चतुरंगा डिसिल्वा, सचित पतिराना, धनंजय डिसिल्वा, नुवान प्रदीप, विश्वा फर्नांडो, दुष्मंता चमीरा।

Previous
Next

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*