Skip to Content

पूर्वी दिल्ली के गाज़ीपुर डम्पिंग ग्राउंड में कूडे के ढेर के खिसकने से हुआ बड़ा हादसा, दो की मौत

पूर्वी दिल्ली के गाज़ीपुर डम्पिंग ग्राउंड में कूडे के ढेर के खिसकने से हुआ बड़ा हादसा, दो की मौत

Be First!

पूर्वी दिल्ली (राजू वर्मा )। गाज़ीपुर पुर मुर्गा मंडी के पास डम्पिंग ग्राउंड में पूर्वी दिल्ली का सारा कूड़ा निगम द्वारा इकठ्ठा किया जाता है। डम्पिंग ग्राउंड का एरिया लगभग दस एकड़ में फैला हुआ। कई दिनों से दिल्ली में हो रही बारिस के कारण कूड़े का ढेर आज लगभग तीन बजे खिसक गया। काफी ऊंचाई से खिसकने के कारण कूड़े के ढेर का भारी हिस्सा नाले में गिरा और कूड़ा गिरने के बाद नाले का पानी सड़क पर जा रहे वाहनों को चपेट में लेते हुए दूसरी तरफ नहर में जा पहुंचा। कूड़े के ढेर के चपेट में दो कार और एक मोटर साइकल आ गयी जिन्ह कूड़े का ढेर सीधा नहर में ले गया। मौके पर मौजूद क्षेत्रवासियों ने तत्काल नहर में कूद ३ लोगों को ज़िंदा बचा लिया जब की दो लोगों की मौत हो गयी।

कोंडली से आम आदमी के विधायक मनोज कुमार सुचना मिलते ही अपने समर्थकों के साथ सबसे पहले मौके पहुंचे। क्षेत्रीय लोगों ने  अपने विधायक के कार्य की सराहना किया। मनोज कुमार मौके पर पहुँचते ही अपने जूते उतार कर पैंट ऊपर करके बचाव कार्य में स्वयं लग गए।


एनडीआरएफ की टीम गोताखोरों के साथ नहर में अभी भी लोगों को ढूंढ रही है कुछ और लोगों के डूबने की आशंका जताई जा रही है।
गौरतलब है कि गाज़ीपुर में लगभग दस एकड़ में पूर्वी दिल्ली निगम द्वारा डम्पिंग ग्राउंड बनाया गया है। वर्ष १९९४ से पूर्वी दिल्ली का सारा कूड़ा वहीँ पर इकठ्ठा किया जाता जिससे अब वहां पर कूड़े के ढेर ने पहाड़ का आकार ले लिया है। कूड़े के ढेर पर निगम द्वारा घास और पौधे लगाकर हरा भरा करने का कार्य चल रहा है। जिस समय कूड़े का टुकड़ा खिसक कर निचे आया उस समय कूड़े के पहाड़ पर निगम के कर्मचारी कार्य कर रहे थे। आशंका जताई जा रही है की कुछ निगम के कर्मचारी भी दबे हो सकते हैं।
मौके पर क्षेत्रीय विधायक मनोज कुमार, सांसद, पुलिस और प्रशासन के आलाधिकारियों के अलावा दिल्ली के मुख्य मंत्री अरविन्द केजरीवाल स्वयं पहुँच


व्यवस्था का निरक्षण कर रहे है। मुख्य मंत्री केजरीवाल ने निगम पर लापरवाही और अवैध तरिके से कूड़ा इकठ्ठा करने आरोप लगाया है और पूरे मामले की न्यायिक जाँच कराने का भरोसा दिया है वहीँ निगम के आयुक्त ने इस घटना की ज़िम्मेदारी लेते हुए दोषी अधिकारीयों के खिलाफ सख्त कार्रवाई का आश्वासन दिया है। मृतकों के लिए अभी तक किसी तरह की सहायता की कहीं से कोई घोषणा नहीं हुई है। खबर लिखे जाने तक बचाव कार्य जारी था।

Previous
Next

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*