Skip to Content

GULISTAN

SACH K SATH SADA…..

फैसले के बाद लालू यादव: नफरत का गंदा खेल खेल रही है BJP, लेकिन अंत में जीत सच की होगी

फैसले के बाद लालू यादव: नफरत का गंदा खेल खेल रही है BJP, लेकिन अंत में जीत सच की होगी

Be First!
by December 24, 2017 दिल्ली
  • नई दिल्ली.बिहार के चारा घोटाला में दोषी करार दिए जाने पर लालू प्रसाद यादव ने ट्वीट कर बीजेपी पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि सच को झूठ बनाकर पेश किया जा सकता है, लेकिन आखिर में जीत सत्य की होती है। धूर्त बीजेपी वोट बटोरने के लिए राजनीति का गंदा खेल खेल रही है। निचले तबके का कोई आदमी बदलाव की कोशिश करता है तो इसे दंडित किया जाता है। उधर, बीजेपी ने कहा कि लालू आरोप लगाने की बजाय कोर्ट के फैसले को मानें। शनिवार को रांची की सीबीआई स्पेशल कोर्ट ने लालू समेत 15 आरोपियों को दोषी करार दिया। कुल 22 में से आरोपियों 7 को बरी किए गए। अब 3 जनवरी को सजा सुनाए जाने तक लालू जेल में रहेंगे। बता दें कि 900 करोड़ के घोटाले में लालू को पहले 6 साल की सजा सुनाई जा चुकी है।

    गुदड़ी के लाल को परेशान कर सकते हो, पराजित नहीं: लालू

    – लालू प्रसाद ने ट्वीट्स में लिखा, ”सच को झूठ बनाकर पेश किया जा सकता है, प्रोपेगंडा के तहत आधे झूठ को सच मान लिया गया। कभी ना कभी जीत सत्य की होगी। सच अपना सफर शुरू करे, उससे पहले झूठ आधी दुनिया घूम लेता है। लेकिन जीत उसी की होती है।”
    – ”आप इस गुदडी के लाल को परेशान कर सकते हों, पराजित नहीं। झूठे जुमले बुनने वालों सच अपनी ज़िद पर खड़ा है। धर्मयुद्ध में लालू अकेला नहीं पूरा बिहार साथ खड़ा है।”
    – ”धूर्त बीजेपी अपनी जुमलेबाजी और कारगुजारियों को छुपाने, वोट बटोरने और विपक्ष की जनता के प्रति सोच बिगाड़ने के लिए राजनीति में अनैतिक और बदले की भावना से गंदा खेल खेलती है। मरते दम तक सामाजिक न्याय की लड़ाई लड़ता रहूंगा। जगदेव बाबू ने गोली खाई, हम जेल जाते रहते है लेकिन मैं झुकूंगा नहीं। लड़ते-लड़ते मर जाऊंगा लेकिन मनुवादियों को हराऊंगा।”

    – ”पॉवरफुल लोग राज करने के लिए हमेशा समाज को बांटते हैं और जब कोई निचले तबके का आदमी इसे बदलने की कोशिश करता है। उसे दंडित किया जाता है। क्या नेल्सन मंडेला, मार्टिन लूथर किंग, बाबा साहेब अंबेडकर कोशिश में नाकाम हुए। इतिहास में उन्हें विलेन की तरह देखा गया। पक्षपाती-जातिवादी लोगों के लिए वो आज भी विलेन हैं।”

    लालू की पार्टी बोली- हम फैसले के खिलाफ हाईकोर्ट जाएंगे

    – आरजेडी स्पोक्सपर्सन मनोज झा ने कहा, ”हम फैसले के खिलाफ हाईकोर्ट जाएंगे। लालू यादव को साजिश के तहत फंसाया गया है। हमें ज्यूडीशियरी सिस्टम में पूरा भरोसा है। कुछ चैनलों ने गलत प्रचार किया। जिस 84 लाख रुपए का जिक्र हो रहा है।”
    – ”सीबीआई ने वकील जुटाए, हमारे द्वारा दिए गए सबूतों को दरकिनार कर दिया गया। कुछ नेता चाहते हैं कि लालू यादव सामाजिक न्याय की राजनीति में काम नहीं कर पाएं। इस मुल्क में कानून से अलग एक और कानून है, जो 11 अशोक रोड के रसूखदारों का है।”
    – ”हम अपने सबूतों के साथ हाईकोर्ट में अपील करेंगे। मैं इस राजनीतिक साजिश को समझता हूं। उनके पास हथकंडा है कि विपक्ष से डील करने की कोशिश करें, अगर कामयाब ना हुए तो डराओ। उनसे कहना चाहता हूं कि आपका अंत शुरू हो चुका है।”

    बीजेपी ने कहा- यह फैसला लालू के लिए सबक

    – केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा, ”यह फैसला मेरे लिए पर्सनल अहमियत रखता है। क्योंकि 90 के दशक में मैंने पटना हाईकोर्ट में दायर पीआईएल पर बहस की थी। तब बिहार सरकार ने सीबीआई जांच का जमकर विरोध किया था। आज लालू यादव के फैसले से एक सबक मिलता है कि अगर आपने भ्रष्टाचार किया तो कानून का शिकंजा जरूर कसेगा।”
    – केंद्रीय मंत्री जेपी नड्डा ने कहा, ”कांग्रेस और लालू यादव के बीच भ्रष्टाचार का गठबंधन है। दोनों देश की जनता को धोखाधड़ी कर लूट रहे हैं। लालू कोर्ट के फैसले को मानने की बजाय बीजेपी पर साजिश का आरोप लगाकर इसे राजनीतिक रंग देने की कोशिश कर रहे हैं।”

    लालू के फैसले पर कांग्रेस ने क्या कहा?

    – कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने कहा, ”लालू यादव 1996 से कानूनी लड़ाई लड़ रहे हैं। यह तब शुरू हुई थी, जब कुछ बीजेपी नेताओं ने पटना हाईकोर्ट में पीआईएल फाइल की। लालू और उनके वकील केस लड़ने के लिए सक्षम हैं। मैं बीजेपी से पूछना चाहता हूं कि सृजन घोटाले की जांच क्यों नहीं कराई जा रही है।”

    बिहार की राजनीति से एक अध्याय खत्म हुआ: त्यागी

    – जेडीयू नेता केसी त्यागी ने कहा, ”मैं अदालत के फैसले का स्वागत करता हूं। देवघर के मामले में कई लोगों को सजा हो चुकी है। इनको होनी थी। बिहार में आज राजनीति का एक अध्याय खत्म हो रहा है। जेपी के आंदोलन से इनकी राजनीति शुरू हुई थी। कई चुनाव जीतने के बाद अब आरजेडी खत्म होने की ओर है।”

    फैसले से पहले लालू ने क्या कहा?

    – रांची के रेलवे गेस्ट हाउस में लालू ने कोर्ट जाने से पहले कहा, ”मुझे ज्यूडिशियरी सिस्टम पर पूरा भरोसा है। सभी को इंसाफ मिल रहा है, हमें भी मिलेगा। मैं पिछड़ी जाति से हूं, मुझे भी इंसाफ मिलेगा। एक ही मुर्गी को 9 बार हलाल किया जा रहा है। वकीलों में सभी जरूरी सबूत कोर्ट को दिए हैं, जो बरी होने के लिए काफी हैं।”
    – वहीं, शुक्रवार शाम रांची एयरपोर्ट पर लालू ने कहा था, ”अगर मैंने किसी से पैसा लिया तो सीबीआई सबूत दे। आखिर किस बात की मुझे सजा दिलाना चाहते हैं। 20 साल से मुझे परेशान किया जा रहा है। ज्यूडीशियरी सिस्टम पर पूरा भरोसा है। टू जी की तरह इसमें भी फैसला आएगा। बीजेपी और सीबीआई मुझे और परिवार को परेशान कर रही है।”

Previous
Next

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*