Skip to Content

GULISTAN

SACH K SATH SADA…..

रोहित की कप्तानी में अब भारतीय टीम की नजर श्रीलंका की क्लीन स्वीप पर

रोहित की कप्तानी में अब भारतीय टीम की नजर श्रीलंका की क्लीन स्वीप पर

Be First!
by December 24, 2017 खेल कूद
मुंबई। रोहित शर्मा की कप्तानी में पहले ही सीरीज जीत चुकी टीम इंडिया रविवार को श्रीलंका के खिलाफ तीसरे और आखिरी टी-20 क्रिकेट मैच में क्लीन स्वीप के इरादे से उतरेगी। इस मैच में भारतीय टीम अपनी बेंच स्ट्रेंथ को भी आजमा सकती है। श्रीलंका के लिए यह दौरा काफी निराशाजनक रहा है और भारत के हाथों दो मैचों में मिली हार ने उसकी परेशानी और बढ़ा दी है। भारत ने कटक में पहले मैच में मेहमान टीम को 93 रन से हराया और इंदौर में दूसरा मैच 88 रन से जीतकर सीरीज अपने नाम कर ली।

 इससे पहले वनडे सीरीज में श्रीलंका को 1-2 से पराजय झेलनी पड़ी थी, जबकि टेस्ट सीरीज में भी वह 0-1 से हारी थी। दूसरी ओर भारतीय टीम ने सभी प्रारूपों में सफलता हासिल की है और दक्षिण अफ्रीका दौरे से पहले एक और जीत के साथ वह अपना मनोबल बढ़ाना चाहेगी। दक्षिण अफ्रीका में उसे तीन टेस्ट, छह वनडे और तीन टी-20 मैच खेलने हैं। लगातार एकतरफा मुकाबले दक्षिण अफ्रीका के कठिन दौरे के लिए अच्छी तैयारी नहीं कहे जाएंगे, लेकिन सकारात्मक बात यह है कि कप्तान विराट कोहली समेत सीनियर खिलाडिय़ों की गैर मौजूदगी में युवा खिलाडिय़ों ने वनडे और टी-20 सीरीज में अच्छा प्रदर्शन किया है।

 

बल्लेबाजी का दारोमदार : कार्यवाहक कप्तान रोहित शर्मा ने सबसे तेज टी-20 शतक के डेविड मिलर के रिकॉर्ड की बराबरी की। उन्होंने इंदौर में 43 गेंद में शतक बनाया और अपने घरेलू मैदान पर वह इस फॉर्म को बरकरार रखना चाहेंगे। केएल राहुल, श्रेयस अय्यर, मनीष पांडे और अनुभवी महेंद्र सिंह धौनी सभी ने उपयोगी पारियां खेली हैं। दो अर्धशतक जमा चुके राहुल इस लय को कायम रखते हुए टीम में अपनी जगह पुख्ता करना चाहेंगे। पहले मैच में अच्छा स्कोर करने वाले स्थानीय खिलाड़ी अय्यर अच्छी शुरुआत को बड़ी पारी में बदलना चाहेंगे। भारत ने शुक्रवार को धौनी को बल्लेबाजी क्रम में ऊपर भेजा था और पूर्व कप्तान ने तेजी से रन बनाकर इस फैसले को सही साबित किया। मुंबई में भी इसे दोहराया जा सकता है।

 

गेंदबाजी में दम : भारतीय बल्लेबाजी क्रम किसी भी गेंदबाजी आक्रमण की धज्जियां उड़ा सकता है। इसका श्रेय इंडियन प्रीमियर लीग (आइपीएल) और भारतीय क्रिकेट के शानदार बुनियादी ढांचे को जाता है। युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में पदार्पण के साथ नियमित तौर पर विकेट लेते हुए अपनी जगह पक्की कर ली है। चयनकर्ताओं की नजरें सौराष्ट्र के तेज गेंदबाज जयदेव उनादकट पर भी रहेंगी, जो आशीष नेहरा के संन्यास के बाद उनकी जगह ले सकते हैं। हार्दिक पांड्या और जसप्रीत बुमराह की टीम में जगह पक्की है और अच्छे प्रदर्शन से आगामी दौरे से पहले उनका मनोबल बढेगा। वैसे सीरीज जीतने के बाद टीम प्रबंधन बासिल थंपी, वाशिंगटन सुंदर और दीपक हुड्डा को भी आजमा सकता है।

 

श्रीलंका को झटका : इस बीच श्रीलंका को करारा झटका लगा, जब एंजेलो मैथ्यूज मांसपेशी में खिंचाव के कारण टीम से बाहर हो गए। उनकी गैर मौजूदगी में उपुल थरंगा जैसे सीनियर खिलाडिय़ों को जिम्मेदारी लेनी होगी। गेंदबाजों में नुवान प्रदीप, तिषारा परेरा और मैथ्यूज काफी महंगे साबित हुए, जिन्हें भारतीय बल्लेबाजों पर नकेल कसने के तरीके तलाशने होंगे।

 

टीमें :

भारत : रोहित शर्मा (कप्तान), केएल राहुल, श्रेयस अय्यर, मनीष पांडे, दिनेश कार्तिक, महेंद्र सिंह धौनी, हार्दिक पांड्या, वाशिंगटन सुंदर, युजवेंद्र चहल, कुलदीप यादव, दीपक हुड्डा, जसप्रीत बुमराह, मुहम्मद सिराज, बासिल थंपी और जयदेव उनादकट।

श्रीलंका : तिषारा परेरा (कप्तान), उपुल थरंगा, एंजेलो मैथ्यूज, कुशल परेरा, धनुष्का गुणतिलके, निरोशन डिकवेला, असेला गुणारत्ने, सदीरा समरविक्रमा, दासुन शनाका, चतुरंगा डिसिल्वा, सचित पतिराना, धनंजय डिसिल्वा, नुवान प्रदीप, विश्वा फर्नांडो और दुष्मंता चमीरा।

Previous
Next

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*