Skip to Content

फूलपुर उपचुनाव को मद्देनजर रखते हुए योगी के इस कैबिनेट मंत्री ने खेली सियासी होली

फूलपुर उपचुनाव को मद्देनजर रखते हुए योगी के इस कैबिनेट मंत्री ने खेली सियासी होली

Be First!
  • इलाहाबादः होली एकमात्र ऐसा त्योहार है जिसमें कोई धर्म और मजहब आड़े नहीं आता। देश में बच्चें, बूढ़, जवान से लेकर देश के मंत्री तक होली के रंग से सराबोर हो जाते हैं। हालांकि छत्तीसगढ़ के सुकमा में नक्सली हमले में 12 जवानों के शहीद हो जाने की वजह से प्रधानमंत्री, गृह मंत्री समेत कांग्रेस के कई नेताओं ने भी इस साल होली नहीं मनाने का फैसला किया है। लेकिन फिर भी कुछ नेता खुद होली के रंग में रंगने से नहीं बचा पाए। इसी कड़ी में योगी के इस कैबिनेट मंत्री नंद गोपाल नंदी ने सियासी होली खेली।
दरअसल संगम नगरी इलाहाबाद में होली के दूसरे दिन सियासी होली खेली गई। सूबे के कैबिनेट मंत्री नंद गोपाल गुप्ता नंदी ने मलिन बस्ती में होली खेलकर उप चुनाव के लिए पार्टी के प्रत्याशी का चुनाव प्रचार किया। इस दौरान बसपा के परंपरागत वोटरों को रिझाने के लिए कैबिनेट मंत्री ने उनकी बस्ती में जाकर होली मनाई। कैबिनेट मंत्री के साथ उनकी पत्नी और इलाहाबाद की महापौर अभिलाषा गुप्ता नंदी भी मौजूद रही। कैबिनेट मंत्री और उनकी पत्नी मम्फोर्डगंज मलिन बस्ती में घर-घर जाकर लोगों को होली की बधाई दी। इस दौरान लोगों को अबीर गुलाल लगाकर न उनसे गले मिलकर न सिर्फ होली की बधाई दी। बल्कि आने वाली 11 मार्च को मतदान के दिन पार्टी प्रत्याशी के पक्ष में वोट देने की अपील भी की।

कैबिनेट मंत्री नंद गोपाल गुप्ता नंदी का कहना है कि जनता सीएम योगी और पीएम मोदी के विकास कार्यों को देखकर फूलपुर से पार्टी प्रत्याशी कौशलेन्द्र सिंह पटेल को जनता भारी बहुमत से विजयी बनायेगी। इस दौरान कैबिनेट मंत्री ने बसपा सुप्रीमों पर दलित वोट बैंक को बेचकर रुपए कमाने का आरोप भी लगाया। उनका साफ कहना है कि बसपा के सारे मतदाता भाजपा को समर्थन कर रहे हैं। वहीं इलाहाबाद की महापौर ने कहा है कि बसपा के वोटर भाजपा के हो चुके हैं। जिसका नतीजा है कि पिछले चुनावों में ही बसपा हासिये पर जा चुकी है।

गौरतलब है कि गोरखपुर से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और फूलपुर से उप मुख्यमंत्री केशव मौर्य के लोकसभा से इस्तीफा देने के बाद उपचुनाव हो रहे हैं। दोनों प्रदेश विधान परिषद के सदस्य निर्वाचित हो गए हैं। उप चुनाव के लिए इन दोनो सीटों पर 11 मार्च को मतदान है, जबकि 14 मार्च को परिणाम घोषित किए जाएंगे।

Previous
Next

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*