Skip to Content

GULISTAN

SACH K SATH SADA…..

आजमगढ़ : मुहर्रम की 28 तारीख़ को जुल्जेनाह आलमे मुबारक का निकाला जुलूस

आजमगढ़ : मुहर्रम की 28 तारीख़ को जुल्जेनाह आलमे मुबारक का निकाला जुलूस

Be First!

(अब्दुल्लाह शेख )
आज़मगढ़। मुहर्रम की 28वीं तारीख गुरूवार को शिया समुदाय के लोगों ने सठियांव ब्लाक के सीहीं गांव में जुल्जेनाह आलमे मुबारक का जुलूस एवं सैय्यदे सज्जाद का ताबूत तीनों जुलूस एक साथ निकाला। यह जुलूस हजरत इमाम हुसैन व उनके साथियों की शहादत के 18 दिन बाद बीमारे कर्बला की याद में मनाया गया। यह कार्यक्रम प्रातःकाल से आरंभ होकर शाम गांव स्थित कर्बला के मैदान में सम्पन्न हुआ।

बीमारे कर्बला की याद में निकाले गये जुलूस में अन्जुमन मासूमिया मुबारकपुर, गुलशने अब्बास शाहगंज, जवानाने हुसैनी अमिलो मुबारकपुर, दस्तए मासूमिया सीहीं आदि अन्जुमनों ने नौहाख्वानी व सीनाजनी की। इस मौके पर आयोजित मजलिस में मौलाना सैय्यद सारिब ने मजलिस को संबोधित करते हुये कहा कि इस्लाम अमन शांति और मानवता का संदेश देता है।

इस्लाम में आतंकवाद की कोई जगह नहीं है। इस्लाम तलवार से नहीं बल्कि प्रेम और भाईचारगी से फैला है। इसके अलावा मजलिस को मौलाना शफकत तकी घोसी और कसीम हैदर सीहीं ने भी संबोधित किया। अंत में 18 बनी हाशिम के ताबूत की जेयारत कराई गई। कार्यक्रम का संचालन जीशान अली ने किया। मुख्य रूप से अलमदार अब्बास, कमर हैदर, अफसर अली, मिसम अब्बास, जैगम अब्बास आदि लोग उपस्थित थे।

 

Previous
Next

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*