Skip to Content

Gorakhpur: बीएसएफ का भगोड़ा सिपाही बना बिल्डर, नियम क़ानून को रखता है जेब में

Gorakhpur: बीएसएफ का भगोड़ा सिपाही बना बिल्डर, नियम क़ानून को रखता है जेब में

Be First!

गोरखपुर संवाददाता। सरकार और पुलिस की लाख कोशिशों के बाद भी भूमाफियाओं का आतंक सीएम के शहर में कम होने का नाम नही ले रहा। शुक्रवार को कोतवाली थाना इलाके में मोहल्ला बक्शीपुर के रहने वाले अब्दुल सईद, नईम, समीद, सलीम और ज़ोहरा ने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक से मिलकर अपने साथ हुई जालसाजी की दास्तान सुनायी। अपनी फरियाद में उन्होंने बताया कि दिलशाद अहमद पुत्र शकील मोहल्ला रायगंज थाना राजघाट ने उनसे बिल्डर एग्रीमेंट किया इसके बाद उसने उनकी जमीन पर नीचे दुकान ऊपर एक हाल और द्वितीय तल पर हम लोगों को रिहाइशी मकान बना कर दिया।

एग्रीमेंट में यह तय हुआ था कि दिलशाद अहमद दुकान की पगड़ी लेंगे और किराया हम लोग लेंगे परंतु निर्माण पूरा हो जाने के बाद भी बीच का हाल दिलशाद ने अपने कब्जे में रखते हुए वहां जिम खुलवा दिया । सन 2013 के बाद से जब भी यह लोग किराया मांगने जाते तो दिलशाद असलहे के बल पर उनको डरा धमका कर भगा देता था । इस बीच दिलशाद ने नगर निगम में उक्त संपत्ति को अपने नाम दर्ज कराते हुए कर निर्धारण सूची में अपना नाम भी सम्मिलित करा लिया।

(फ़र्ज़ी तरीके से जमीन और मकान कब्ज़ा करने का आरोप, फरियादी पहुंचे पुलिस कप्तान की शरण मेंशहर कई थानों में दर्ज है आपराधिक मुकदमें)

प्राप्त जानकारी के अनुसार दिलशाद अहमद बीएसएफ का एक भगोड़ा सिपाही है । जिसने जालसाजी के बल पर अकूत संपत्ति अर्जित कर लिया है। इसके खिलाफ शहर के विभिन्न थानों में कई मुकदमे पंजीकृत हैं। इसमें से एक मुकदमा राजघाट थाने में मु0अ0सं0 122/12 धारा 286, 331,323,504,506 दर्ज है।
वहीं दूसरी ओर एक अन्य शिकायत में विगत दिनों मुजीबुल्लाह, करीमुल्लाह, सफीकउल्ला और ताहिरा बेगम निवासी तुर्कमानपुर थाना राजघाट ने भी दिलशाद अहमद के विरुद्ध भटहट में स्थित आराजी संख्या 625 को फर्जी तरीके से हथियाने का आरोप लगाते हुए जिलाधिकारी से कार्यवाही की मांग किया है।

इसके अलावा सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार वर्तमान में दिलशाद अहमद अपने विभिन्न पार्टनरों के साथ बिल्डर एग्रीमेंट के जरिये शहर के विभिन्न इलाकों में तमाम अवैध निर्माण करा रहा है। जिसमे कोतवाली थाना के सामने जीडीए की रोक के बावजूद दुकानों का निर्माण, मोहल्ला धम्माल में बिना स्वीकृत मानचित्र के व्यवसायिक निर्माण, जुबली रोड़ पर मानचित्र के विपरीत निर्माण, घासीकटरा के पास अवैध तरीके से कम्प्लेक्स का निर्माण कार्य नियम कानून को जेब में रख कर धड़ल्ले से कराया जा रहा है और इतना सब होने के बाद भी प्रशासन इन सब से अनजान है।

Previous
Next

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*