Skip to Content

अम्बेडकर नगर: रहस्य की चादर में लिपट कर रह गया चिकित्सक की मौत का राज

अम्बेडकर नगर: रहस्य की चादर में लिपट कर रह गया चिकित्सक की मौत का राज

Be First!

आलापुर -अंबेडकरनगर(प्रदीप पाण्डेय)। रामनगर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर तैनात रहे चिकित्सक डॉक्टर सतीश यादव 32 वर्ष पुत्र दूधनाथ यादव की मौत का रहस्य अभी भी है बरकरार। बुधवार की भोर में सुल्तानपुर जनपद के गोसाईगंज थाना क्षेत्र के इनायतपुर में कटका- अंबेडकरनगर मुख्य मार्ग के किनारे गड्ढे में क्षतिग्रस्त कार में मृत मिले थे डॉक्टर सतीश यादव। सूचना पर पहुंची गोसाईगंज पुलिस ने कार से उनके बेजान शव को निकाल भिजवाया था जिला अस्पताल जहां चिकित्सकों ने उन्हें किया था मृत घोषित। अंबेडकर नगर जिले के जलालपुर तहसील क्षेत्र के मूल निवासी डॉक्टर सतीश यादव लखनऊ के आलमबाग कोतवाली क्षेत्र के आजाद नगर में बना रखे थे अपना आशियाना।

पत्नी शुभ्रा यादव 11 माह की बेटी किंजल यादव एवं अन्य परिवारीजनों के साथ वही करती थी प्रवास। लखनऊ से फैजाबाद होकर आने जाने के बजाए सुल्तानपुर होकर रामनगर पीएचसी आते जातेे थे डॉक्टर सतीश यादव। मंगलवार की शाम 6:00 बजे उन्होंने की थी अपनी पत्नी शुभ्रा यादव से बात। मंगलवार को ही लखनऊ से सुल्तानपुर स्थित अपने एक चिकित्सक मित्र से मिलने की बात कह कर अपनी कार से घर से निकले थे डॉक्टर सतीश। बुधवार भोर को क्षतिग्रस्त कार में खून से लथपथ मृत पड़े मिले थे डॉ सतीश। उनके किसी मित्र ने गोसाईगंज थानाध्यक्ष को दी थी सूचनात्मक तहरीर।

थानाध्यक्ष गोसाईगंज अमरनाथ विश्वकर्मा ने की पुष्टि, कहा पोस्टमार्टम रिपोर्ट का अवलोकन करने के बाद ही कुछ हो पाएगा स्पष्ट। दिवंगत चिकित्सक के भाई मनीष यादव को भी है पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार। पोस्टमार्टम रिपोर्ट का अवलोकन करने के बाद मनीष यादव देंगे तहरीर। साजिश हत्या व हादसा के मध्य उलझ कर रह गई चिकित्सक सतीश की मौत की गुत्थी।

Previous
Next

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*