Skip to Content

Fight For Rights: पीएम मोदी को नींद से जगाने, दिल्ली की जनता उतरी सड़क पर

Fight For Rights: पीएम मोदी को नींद से जगाने, दिल्ली की जनता उतरी सड़क पर

Be First!

नई दिल्ली। अपने अधिकारों को पाने के लिए दिल्ली की लाखों जनता सड़क पर उतर कर प्रदर्शन कर रही है। दिल्ली के मुख्यमंत्री मंत्री अरविंद केजरीवाल राज निवास पर अनशन पर हैं। जनता बिजली की कटौती और बाधित जल सप्लाई से दुखी है। केजरीवाल का आरोप है कि दिल्ली सरकार के अफसर कार्य नहीं कर रहे हैं। जिसके कारण जनता को मिलने वाली सुविधाएं सुचारू रूप से नहीं मिल पा रही हैं।

उप राज्यपाल ने कई महत्वपूर्ण योजनाओं की फाइलों को अपने पास रोका हुआ है जिसके कारण राशन सप्लाई, मोहल्ला क्लिनिक और कई योजनाएं अधर में लटकी हुई हैं। पांच दिनों से दिल्ली के सीएम और कई नेता राज निवास से अनशन कर रहे हैं लेकिन राज्यपाल कुछ भी बोलने से बच रहे हैं।

4 राज्यों के सीएम ने केजरीवाल की मांग को जायज बताया है और केजरीवाल के समर्थन में दिल्ली तक आ गए। चारों सीएम पीएम से मिल कर समस्या का हल निकालना चाहते थे लेकिन पीएमओ से उनको मिलने का समय नहीं मिला।

केजरीवाल सरकार अब जनता के बीच जा कर यह बता रही है कि हम दिल्लीवासियों के लिए अपने वादे के अनुरूप कार्य करना चाहते हैं लेकिन केंद्र सरकार और उपराज्यपाल के तरफ से किसी भी तरह का सहयोग नहीं मिल रहा है।
इसी क्रम में आज दिल्ली के कोने कोने से पचासों हज़ार कार्यकर्ता दिल्ली के मंडी हाउस से पीएम आवास की तरफ कूच किये लेकिन संसद मार्ग थाने के पास दिल्ली पुलिस ने उन्हें रोक लिया। पुलिस के सख्त बैरिकेडिंग के कारण प्रदर्शन को वहीं पर समाप्त करना पड़ा।

दिल्ली के कोने कोने से महिलाएं, बुजुर्ग और युवा आज के इस प्रदर्शन में पहुंचे हुए थे। कई किलोमीटर तक आने वालों का तांता लगा हुआ था। कार्यक्रम का संचालन पार्टी के राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने किया।

दूर दराज से आये हुए लोंगों में केंद्र सरकार और उपराज्यपाल के प्रति गुस्सा देखा गया। लोंगों ने कहा कि दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा मिलना चाहिए। जिससे कि दिल्ली की सरकार स्वतंत्ररूप से अपना कार्य कर सके। by -KD Siddiqui, E-mail:editorgulistan@gmail.com

Previous
Next

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*