Skip to Content

सियासत: भाजपा के स्थापना दिवस पर एक और स्तम्भ गिरा, सांसद शत्रुघ्न सिन्हा कांग्रेस में हुए शामिल

सियासत: भाजपा के स्थापना दिवस पर एक और स्तम्भ गिरा, सांसद शत्रुघ्न सिन्हा कांग्रेस में हुए शामिल

Be First!

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव २०१९ का घमासान शुरू है और इस महायुद्ध में पार्टियां जहाँ दूसरे दलों के रणबांकुरों को तोड़ने में जुटी हैं तो वहीँ पर कुछ राजनीती के महायोद्धा अपने दल से संतुष्ट नहीं होने के कारण दल बदल रहे हैं। भाजपा के बागी नेता और बिहार के पटना साहिब से सांसद शत्रुघ्न सिन्हा कांग्रेस में शामिल हो गए। लम्बे समय से शत्रुघ्न सिन्हा भाजपा और केंद्र सरकार की नीतियों के खिलाफ बयानबाजी करते रहे हैं। जिसका नतीजा यह हुआ कि लोकसभा चुनाव में उनका टिकिट काट दिया गया।

पार्टी से अलग थलग पड़ते देख और वक़्त की चाल को भांपते हुए शत्रुघ्न सिन्हा ने पार्टी बदलना उचित समझा। दिल्ली में कांग्रेस मुख्यालय पर राहुल गांधी और वरिष्ठ कांग्रेसी नेताओं की मौजूदगी में उन्होंने आधिकारिक तौर से कांग्रेस पार्टी का दामन थाम लिया। सिन्हा ने भाजपा को मोदी और अमित शाह की पार्टी बताया और वरिष्ठ नेताओं के टिकिट काटने पर अफ़सोस जाहिर किया। उन्होंने कहा की हमारी वैचारिक लड़ाई थी। पार्टी से मुझे कोई शिकायत नहीं है लेकिन जिन लोगों के हाथ में इस समय पार्टी है वह चिंता का विषय है। मोदी और अमित शाह सत्ता के लिए देश को कहाँ ले जायेंगे कुछ भी कह पाना मुश्किल है।

सिन्हा ने राजनाथ सिंह के खिलाफ लखनऊ से अपनी पत्नी अरुणिमा सिन्हा को चुनाव लड़ाने के सवाल पर कहा कि कुछ भी हो सकता है। उन्होंने कहा की भाजपा में आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी के हालत पर मुझे दया आ रही है और चिंता भी हो रही है। शत्रुघ्न सिन्हा ने भाजपा को टू मैन आर्मी बताया।
कांग्रेस पार्टी की सदस्य्ता ग्रहण करने के बाद शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि गाँधी परिवार से जुड़ कर मुझे ख़ुशी हुयी है और अब मैं पूरी तन्मयता से कांग्रेस पार्टी के लिए कार्य करूंगा।
आज भाजपा के स्थापना दिवस पर पार्टी से निकल कर शत्रुघ्न सिन्हा ने ज़ोरदार झटका दिया है। राजनितिक विशेषज्ञों का कहना है कि शत्रुघ्न सिन्हा के पार्टी छोड़ने से भाजपा का एक स्तम्भ गिर गया। लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, शत्रुघ्न सिन्हा और अरुण श्योरि जैसे लोगों के दरकिनार करने से पार्टी का नुकसान होना निश्चित है। Report by: KD Siddiqui E-mail:editorgulistan@gmail.com

Previous
Next

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*