Skip to Content

आज़मगढ़ : अखिलेश यादव ने किया नामांकन, गठबंधन के रंग में रंगा आजमगढ़

आज़मगढ़ : अखिलेश यादव ने किया नामांकन, गठबंधन के रंग में रंगा आजमगढ़

Be First!

आजमगढ़ (गुलिस्तां नेटवर्क)। लोकसभा चुनाव २०१९ के लिए आज़मगढ़ की सदर सीट से सपा गठबंधन के उम्मीदवार अखिलेश यादव ने आज नामांकन किया। नामांकन में पूर्वांचल के कोने -कोने से पहुंचे लाखों कार्यकर्ताओं ने देश में चल रही नफरत और अहंकार की राजनीती को उखाड़ फेंकने के लिए हुंकार भरा। नामांकन के दौरान बसपा के राष्ट्रीय महासचिव सतीश मिश्र, सांसद धर्मेंद्र यादव, पूर्व कैबिनेट मंत्री बलराम यादव, लालगंज से उम्मीदवार संगीता आज़ाद के अलावा जिला अध्यक्ष हवलदार यादव और ज़िले के विधायक और सभी नेता मौजूद रहे।

अखिलेश यादव नामांकन फॉर्म जमा करते हुए

अखिलेश यादव ने कहा की आजमगढ़ की जनता की आवाज़ पर मैं हाज़िर हुआ हूँ और आप सब से वादा करता हूँ कि अगर आप सब ने गठबंधन को जिताया तो अहंकारी और देश को बांटने वाली भाजपा को हम उसके घर गुजरात पहुंचाने का कार्य अवश्य करेंगें। आज जब देश का किसान आत्महत्या कर रहा है, नौजवान बेरोज़गार घूम रहा है, महिलाएं सुरक्षित नहीं हैं और भ्र्ष्टाचार चरम पर है। ऐसे समय में देश का प्रधान मंत्री चौकीदार की भूमिका में देश भर में घूम कर पार्टी का प्रचार कर रहा है। यह अतिनिन्दनीय और शर्मनाक है कि देश के प्रधान मंत्री को लोग चोर कह रहे हैं और इसके लिए भाजपा के नेताओं कोसुप्रिम कोर्ट तक जाना पड़ा।
चुनाव जीतने के लिए मोदी ने देश के सैनिकों और सेना को भी नहीं छोड़ा। जब की इसके लिए चुनाव आयोग बार -बार फटकार लगा चुका है। आज देश की जनता एक जुट होकर भाजपा को मिटाने के लिए मतदान कर रही है। अगर आप सभी चाहते हैं की देश में सामाजिक सद्भाव और भाईचारा बना रहे, महिलाएं सुरक्षित रहें, किसानों को उनका अधिकार और युवाओं को रोज़गार मिले तो संगठित होकर गठबंधन को मतदान करें।

नामांकन के बाद अखिलेश यादव ने ज़िले में आयोजित स्वागत समारोह को सम्बोधित किया। जिसमें उन्होंने दूर दराज से आये हुए लाखों कार्यकर्ताओं का धन्यवाद किया और एकजुट हो कर इस चुनावी संग्राम में संघर्ष करने का संकल्प दिलवाया।
अखिलेश यादव के आजमगढ़ से चुनाव लड़ने से आजमगढ़ की जनता काफी उत्साहित दिखी। गुलिस्तां संवाददाता ने जब रैली में आये लोगों से अखिलेश यादव के आजमगढ़ से चुनाव लड़ने पर सवाल किया तो उन्होंने बताया की यह आजमगढ़ का सौभाग्य है कि यूपी सीएम और समाजवादी पार्टी के युवा राष्ट्रीय अध्यक्ष ने ज़िले का चयन किया।
इससे पहले अखिलेश यादव के पिता मुलायम सिंह यादव आजमगढ़ के सांसद रहे। उन्होंने अपने कार्यकाल में आजमगढ़ शहर की सूरत बदल दिया। आजमगढ़ जिला पूर्वांचल का सबसे विकसित जिला है जिसमें मुलायम सिंह यादव की अहम भूमिका रही है। मुलायम सिंह यादव कहते हैं इटावा मेरी एक आँख है तो आजमगढ़ मेरी दूसरी आँख है। Report : KD Siddiqui, E-mail: editorgulistan@gmail.com

Previous
Next

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*