Skip to Content

भ्र्ष्टाचार : अतरौलिया ब्लॉक के गनपतपुर गांव में पहुंचे जाँच अधिकारी

भ्र्ष्टाचार : अतरौलिया ब्लॉक के गनपतपुर गांव में पहुंचे जाँच अधिकारी

Be First!

राजेश सिंह।
आजमगढ़। अतरौलिया ब्लाक के ग्राम गनपतपुर (रामपुर) में ग्राम विकास के कार्य में घोटाला हुआ है जिसमें संबंधित अधिकारी और ग्राम प्रधान फंसते नज़र आ रहे हैं। ग्रामीणों का कहना है की गांव के पोखरे की खुदाई जेसीबी मशीन से करवा कर विभागीय अधिकारीयों और ग्राम प्रधान ने मिलकर मनरेगा के द्वारा भुगतान करवा मजदूरों के हिस्से की हड़प लिया। जबकि गांव के किसी मजदूर ने पोखरे की खुदाई में कार्य किया ही नहीं।
गौरतलब है की गांव के लोगों को रोजगार देने के उद्देश्य से बनाई गयी योजना के अंतर्गत गांव के विकास कार्य किये जाते हैं जिससे गांव के बेरोजगार लोगों को रोजगार का अवसर मिलता है लेकिन यहाँ पर नियमों का उललंघन करते हुए पोखरे की खुदाई का कार्य मनरेगा के नियमों के विरुद्ध हुआ है।

ग्रामीणों की शिकायत पर प्रमुख सचिव ने उपरोक्त मामले की जाँच के आदेश दिए थे। आज जाँच करने के लिए बीडीओ विजय कुमार पांडेय, सहायक अभियंता हरेंद्र सिंह व पीके यादव मौके पर पहुंचे थे। जाँच अधिकारीयों के सामने ग्रामीणों ने एक स्वर में पोखरी की खुदाई में हुए गोल माल को उजागर किया। गांव वालों ने इस बात की गवाही दिया कि पोखरे की खुदाई जेसीबी मशीन से हुयी है, मनरेगा के अंतर्गत किसी मजदूर ने कार्य नहीं किया है।
अब सवाल यह उठता है की अगर मजदूरों ने कार्य नहीं किया तो उनके खाते में रकम आयी कैसे ?
बिना कार्य किये अगर उनके खाते में रकम आ गयी और उन्होंने बैंक से निकासी करके वह रकम किसी को और अपना हिस्सा ले लिया तो इसमें मामले वह मजदूर भी नहीं बच पाएंगे जो लोग इस खेल शामिल हैं।

Previous
Next

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*