Skip to Content

लखनऊ में शिक्षामित्रों और पुलिस के बीच टकराव में 30 शिक्षामित्र गंभीर रूप से घायल

लखनऊ में शिक्षामित्रों और पुलिस के बीच टकराव में 30 शिक्षामित्र गंभीर रूप से घायल

Be First!

लखनऊ। लम्बे समय से शिक्षामित्रों दवारा किये जा रहे प्रदर्शन पर आज फिर यूपी पुलिस की लाठियां चली, जिसमें कई लोग गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। उत्तर प्रदेश सरकार के राज्य मंत्री आवास एवं शहरी मंत्री सुरेश पासी ज्ञापन देने जा रहे शिक्षामित्रों और पुलिस के बीच पथराव हो गया। इसमें दो इंस्पेक्टर सहित दस पुलिसकर्मी घायल हो गए, जबकि लाठीचार्ज में 30 शिक्षामित्र घायल हो गए। चार शिक्षामित्रों की हालत गंभीर देख रेफर किया गया है। शिक्षामित्रों के खिलाफ पथराव, सरकारी कार्य में सहित अन्य धाराओं में मुक्दमा दर्ज किया गया है। 40 शिक्षामित्रों को हिरासत में भी लिया गया है।
शुक्रवार को दिन में शिक्षामित्र शहीद पार्क पर बैठक कर रहे थे। उनको जानकारी मिली कि जनपद में राज्यमंत्री सुरेश पासी आ रहे हैं। वे शहीद पार्क से प्रदर्शन करते हुए जीटी रोड के रास्ते गांधी मार्केट स्थिति लोक निर्माण विभाग के गेस्टहाउस पहुंच गए। शिक्षामित्र को मंत्री ज्ञापन देना चाहते थे। जिला प्रशासन के पास सूचना थी कि महिला शिक्षामित्र ज्ञापन के समय मंत्री चूड़िया भेंट करेंगी। इससे बचने के लिए पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों ने गेस्टहाउस से पहले बैरियर लगा दिया। अधिकारियों से वार्ता के बाद दो बजे सड़क पर ही शिक्षामित्र बैठ गए। वे प्रदर्शन करते रहे। करीब साढे़ तीन बजे मंत्री सुरेश पासी गेस्ट हाउस पहुंच गए।

अधिकारियों ने जानकारी दी तो मंत्री ने पांच लोगों को अंदर बुलाकर ज्ञापन लेने की बात कहीं। शिक्षामित्र अकेले में ज्ञापन नहीं देना चाहते थे, लेकिन प्रशासन नहीं माना। इसी बात पर शिक्षामित्र आक्रोशित हो गए। पुलिस की ओर से लगाए गए बैरियर को तोड़कर आगे बढ़ने लगे। इस पर धक्का मुक्की होने लगी। पुलिस ने शिक्षामित्रों पर लाठी चलाना शुरू किया तो शिक्षामित्रों ने पत्थर फेंकना शुरू कर दिया। भीड़ को तितर-बितर करने के लिए रबड़ की गोलियों के साथ आंसू गैस के गोले छोड़ दिए गए। एक गोली महिला शिक्षामित्र गीता पत्नी संदीप कुमार निवासी नरहोली थाना अवागढ़ का पैर टूट गया। अन्य घायल शिक्षामित्रों को जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है। चार शिक्षामित्रों की हालत गंभीर देख रेफर किया गया है। इस घटना में कोतवाली नगर प्रभारी, महिला थाना प्रभारी, निधौली कलां प्रभारी सहित आठ पुलिस कर्मी घायल हो गए। एसएसपी अखिलेश कुमार चौरसिया ने बताया कि पथराव करने तथा सरकारी कार्य में बाधा डालने के आरोप की रिपोर्ट दर्ज करा दी है।

Previous
Next

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*